44 Interesting Fact about internet – इन्टरनेट के रोचक तथ्य?

हेलो स्वागत है डेली हिंदी पोस्ट के ब्लॉग में आज में आपके लिए लाया हु 44 internet fact जिसे आप भी नहीं जानते होंगे न ही आपने सुना होगा जिसे पढ़ने के बाद आप सोच में पड़ जाएंगे

तो आइये देखते है कौन से है वो 44 internet fact अगर आप को पसंद आये तो अपने दोस्तों को जरुर शेयर करे ताकि महत्वपूर्ण जानकारी उन्हें मिल सके और वो भी internet fact के बारे में पढ़ सके

44 Interesting Fact about internet - इन्टरनेट के रोचक तथ्य?
internet fact

Internet Fact

  1. Google द्वारा प्रतिदिन की जाने वाली खोजों में से 16 – 20% को पहले कभी भी Google नहीं किया गया है
  2. भारत में 97% लोग मोबाइल से इंटरनेट एक्सेस करते है.
  3. चीन में इंटरनेट की लत से पीड़ित लोगों के लिए एक इलाज शिविर है।
  4. भारत में इंटरनेट लोगो की संख्या 2020 में 62.7 करोड़ है.
  5. मार्क जुकरबर्ग की मूल फेसबुक प्रोफाइल नंबर आईडी 4 . है
  6. दुनिया में 20 करोड़ से अधिक लोग हर महीने कहानिया इंस्टाग्राम पर पोस्ट करती है
  7. दुनिया में 80% इंटरनेट यूजर के पास मोबाइल फ़ोन है
  8. वेब पर आधे से ज्यादा ट्रैफिक के लिए फाइल शेयरिंग और मीडिया स्ट्रीमिंग जिम्मेदार हैं।
  9. यूट्यूब दुनिया का no.1 वीडियो स्ट्रीमिंग एप्लीकेशन है
  10. इंटरनेट पर सर्च करने के लिए आप कितनी बार गूगल का इस्तेमाल करते हैं? Google प्रतिदिन औसतन लगभग 3 बिलियन खोज करता है।
  11. वाई-फाई के “फाई” भाग का अर्थ निष्ठा नहीं है। दरअसल, इसके पीछे कोई मतलब नहीं है! आविष्कारक ने हाई-फाई के साथ तुकबंदी के कारण इसे चुना।
  12. दुनिया में 79% लोग विज्ञापनों नजरअंदाज कर देते है
  13. अगर इंटरनेट को हॉर्सपावर में नापा जाए तो आज इंटरनेट को चलाने में 50 मिलियन हॉर्सपावर की जरूरत होती है।
  14. पहली वेबसाइट अभी भी ऑनलाइन है (http://info.cern.ch/hypertext/WWW/TheProject.html)
  15. औसत इंटरनेट स्पीड 5.6 एमबीपीएस है। 26.7 एमबीपीएस के साथ दक्षिण कोरिया में उच्चतम औसत है! इस बीच, फिलीपींस में, यह सिर्फ 3.54 एमबीपीएस है।
  16. आज इंटरनेट 9485 दिन पुराना हो गया है
  17. चीन में इंटरनेट का उपयोग करने वालों की संख्या (640 मिलियन) पूरे संयुक्त राज्य की जनसंख्या से दोगुनी है।
  18. इंटरनेट पर 1973 में केवल 42 कंप्यूटर शामिल थे.
  19. हम सभी ऑनलाइन शॉपिंग करना पसंद करते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि इंटरनेट पर बिकने वाली पहली वस्तु मारिजुआना का एक बैग था? यह 1971 में हुआ था!
  20. “इंटरनेट सर्फिंग” वाक्यांश 1992 में जीन आर्मर पोली नामक एक लाइब्रेरियन द्वारा गढ़ा गया था।
  21. 87% लोगों ने ‘इंटरनेट ऑफ थिंग्स’ शब्द नहीं सुना है।
  22. “यू हैव गॉट मेल!” वेबसाइट अभी भी ऑनलाइन है
  23. Google ऐडवर्ड्स के लिए सबसे महंगा कीवर्ड “बीमा” है – $ 1166.81 मूल्य-प्रति-क्लिक (वर्डस्ट्रीम के अनुसार)
  24. पोर्न वेबसाइट महीने में flipkart , Amazon , और Twitter , Netflix के संयुक्त से ज्यादा यूजर आते है
  25. 2.58 मिलियन लोग अभी भी AOL . के लिए भुगतान करते हैं
  26. भारत में इंटरनेट की शुरुआत VSNL ने 15 august 1995 में किया था.
  27. Google दुनिया की सबसे लोकप्रिय वेबसाइट है। इसे प्रतिदिन लगभग 5 बिलियन खोजें मिलती हैं!
  28. हम सभी ऑनलाइन शॉपिंग करना पसंद करते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि इंटरनेट पर बिकने वाली पहली वस्तु मारिजुआना का एक बैग था? यह 1971 में हुआ था!
  29. पहला पंजीकृत डोमेन Symbols.com था
  30. लगभग ४.६६ अरब लोग इंटरनेट का उपयोग कर रहे हैं, जो दुनिया की आधी आबादी से थोड़ा ही अधिक है!
  31. Match.com पर मिले लोगों से 1 मिलियन बच्चे पैदा हुए हैं
  32. हर 100 में से 10 अमेरिकी सोचते है कि एचटीएमएल वेब लैंग्वेज नहीं, बल्कि यौन रोग है।
  33. चीन में पर्सनल कंप्यूटर की तुलना में मोबाइल पर इंटरनेट इस्तेमाल करने वालों की संख्या अधिक है।
  34. सभी ई-मेल संदेशों में 70 फीसदी संदेश स्पैम होते हैं।
  35. एक एकल Google क्वेरी एक उत्तर प्राप्त करने के लिए 0.2 सेकंड में 1,000 कंप्यूटरों का उपयोग करती है
  36. इंटरनेट पर सर्फिंग शब्द 1992 में न्यूयॉर्क के लाइब्रेरियन जीन आर्मर पोली उर्फ ​​नेट मॉम द्वारा गढ़ा गया था
  37. YouTube हर एक मिनट में 72 घंटे का वीडियो अपलोड करता है।
  38. सिना वीबो के 280.8 मिलियन उपयोगकर्ता हैं
  39. ट्विटर के 250 मिलियन से अधिक उपयोगकर्ता हैं
  40. मूल स्पेस जैम वेबसाइट अभी भी जीवित है
  41. पहला ट्वीट 21 मार्च 2006 को भेजा गया था
  42. इंटरनेट उपयोगकर्ताओं का वर्तमान अनुमान दुनिया भर में लगभग 3.26 बिलियन या पृथ्वी की आबादी के आधे से भी कम है।
  43. प्रतिदिन 500 मिलियन ट्वीट भेजे जाते हैं
  44. अगर इंटरनेट का वजन किया जाए तो इसका वजन लगभग 2 औंस (50 ग्राम) होगा। कोई इंटरनेट के वजन को कैसे मापता है? भौतिक विज्ञानी रसेल सेइट्ज ने कई अरबों इलेक्ट्रॉनों के वजन को मापा, जो डेटा बनाते हैं जिसे हम हर दिन आगे और पीछे भेजते हैं।

Read It:-

आखिर में,

दोस्तों आज की पोस्ट कैसी रही आपके लिए आज हमने नॉलेज लिया है जो हमारे बहुत काम आने वाला है हमने इंटरनेट फैक्ट के बारे में पढ़ा है में आशा करता हु आपको यह पोस्ट पसंद आयी होगी

अपने मित्र स्कूल फ्रेंड कॉलेज फ्रेंड को सेंड जरूर करें

Leave a Comment