Share Market Kya hai? शेयर मार्केट में निवेश कैसे करें पूरी जानकारी हिंदी में

Share Market kya hai दोस्तों शेयर मार्केट में पैसा कमाना चाहते हो और पहली बार कदम रख रहे जानकारी जीरो के बराबर है पर कुछ ही समय में अच्छा पैसा कमाना चाहते हो तो शेयर मार्केट आपके लिए बहुत अच्छा प्लेटफार्म है यह आपको जल्दी अमीर बना देगा पर उसके लिए आपको मेहनत भी पूरी करनी होगी

ऐसा नहीं है की बिना काम की आप पैसा कमा सको अगर बिना मेहनत कमाये पैसा कमाना चाहते हो तो यह आर्टिकल आपके लिए नहीं है शेयर मार्केट में डेली कम्पटीशन बढ़ता जा रहा है और इसलिए शेयर मार्केट भी हार्ड होता जा रहा है तो इसलिए अगर आप पैसे कमाने के बारे में सोच रहे हो तो उससे पहले आपको पूरी जानकारी पढ़े लेनी है उसके बाद ही आप पैसे कमाने के बारे में सोचना तो आइये जान लेते है

हेलो मेरा नाम Yuvi Rai है और में DailyHindiPost का एडमिन हाजिर हु फिर से एक नयी इंटरेस्टिंग पोस्ट के साथ और शेयर करने जा रहा हु Share market kya hai अगर आप भी शेयर मार्किट में पैसा इन्वेस्ट करना चाहते है तो आप इस आर्टिकल को पहले पूरा पढ़े ताकि आप शेयर मार्केट के बारे में जान सके कभी भी बिना जाने किसी पर भी पैसा इन्वेस्ट नहीं करना चाहिए

इसलिए आपको जानकरी देना मेरा काम है और आपका पढना का काम है पोस्ट अच्छी लगे तो अपने सोशल मीडिया जैसे फेसबुक इंस्टाग्राम ट्विटर आदि पर शेयर जरुर करे ताकि और लोगो तक यह पोस्ट पहुँच सके

Share market kya hai
Share market kya hai

Table of Contents

शेयर मार्किट क्या होता है? Share Market Kya hai in Hindi

( Share Market kya hai ) शेयर बाजार एक ऐसा बाजार है जहां कंपनियों के शेयरों को खरीदा और बेचा जा सकता है। किसी भी अन्य बाजार की तरह, शेयर बाजार में भी खरीदार और विक्रेता एक-दूसरे से मिलते हैं और सौदेबाजी करते हैं। पहले शेयरों की खरीद-बिक्री मौखिक बोलियों के माध्यम से की जाती थी और खरीदार और विक्रेता मौखिक रूप से सौदे करते थे।

आपने अपने दैनिक जीवन में “स्टॉक मार्केट”, “शेयर मार्केट” जैसे शब्दों के बारे में जरूर सुना होगा। तो, Share Market kya hai? यदि आप इसमें लंबी दौड़ के लिए हैं और शेयरों में व्यापार करना सीखना चाहते हैं, तो कुछ बुनियादी ज्ञान होना अनिवार्य है। एक शेयर बाजार एक बुनियादी मंच है जो खरीदारों और विक्रेताओं को बाजार के घंटों के दौरान सार्वजनिक रूप से सूचीबद्ध शेयरों में व्यापार करने के लिए एक स्थान पर लाता है।

भारत में, दो प्रमुख स्टॉक एक्सचेंज हैं। एक नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) है और दूसरा बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) है। तो, आइए शेयर बाजार की बुनियादी बातों को समझ कर शुरुआत करें।

शेयर बाजार में इन्वेस्ट कैसे करे? share bazar me invest kaise kare

शेयर बाजार में निवेश करने के लिए आपको एक डीमैट और ट्रेडिंग खाता खोलना होगा। यह अनिवार्य है।
उसके बाद, अपने डीमैट और ट्रेडिंग खाते में लॉग इन करें और उन शेयरों को चुनें जिन्हें आप खरीदना और बेचना चाहते हैं। सुनिश्चित करें कि उन शेयरों को खरीदने के लिए आपके खाते में आवश्यक धनराशि है। इसके लिए आपको जरूरी दस्तावेज पेश करने होंगे। सफल सत्यापन के बाद, आपका खाता खोल दिया जाएगा।

वह मूल्य बिंदु चुनें जिस पर आप शेयर खरीदना और बेचना चाहते हैं। फिर उस अनुरोध को पूरा करने के लिए खरीदार/विक्रेता की प्रतीक्षा करें। एक बार लेन-देन हो जाने के बाद, आप या तो शेयर प्राप्त करते हैं या आपके द्वारा खरीदे या बेचे गए शेयरों के लिए धन प्राप्त करते हैं।

शेयर मार्केट से पैसे कमाने के तरीके share market se daily paise kaise kamaye

यदि आप स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग में नए हैं, तो आपको शेयर ट्रेडिंग शुरू करने से पहले अनुशासन और धैर्य के साथ-साथ बाजारों पर गहन शोध करने की आवश्यकता है। अच्छा पैसा बनाने का प्रलोभन हमेशा बना रहेगा लेकिन स्टॉक को रखने या बेचने के निर्णय पर पहुंचने से पहले शेयर बाजारों की अस्थिरता को ध्यान में रखना चाहिए। यदि आप स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग में बेहतर होना चाहते हैं, तो आपको शेयर, ईटीएफ, फ्यूचर्स और ऑप्शंस इत्यादि जैसे विभिन्न वित्तीय साधनों और स्टॉक मार्केट में उपलब्ध विभिन्न अवसरों जैसे इंट्राडे, डिलीवरी और विभिन्न अवसरों को समझना होगा।

जरूर पढ़ें:-

शुरुआत में ज्यादा इन्वेस्ट न कर और धैर्य रखें

अगर आप शेयर मार्केट के बारे में विस्तार से नही जानते तो उससे पहले जान ले, Share market kya hai शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करने से ज्यादा समझना जादा जरुरी है थोड़ो लेट इन्वेस्ट करो पर बेस्ट करो और ज्यादा समय के लिए पैसे इन्वेस्ट मत करो और अधिक मात्रा में भी पैसे इन्वेस्ट न करो जैसे जैसे आपको शेयर मार्केट के बारे में अच्छी जानकारी प्रापत होती रहे वैसे वैसे थोड़ा थोड़ा पैसा बढ़ा दे इन्वेस्ट करने में अच्छी जानकारी कही से भी ले जहा से आपको मिले, डेली अपडेट रहो शेयर मार्केट में ज्यादा समझदारी न दिखाए नहीं तो आपको भारी नुकसान हो सकता है

एक ही मार्केट में ज्यादा इन्वेस्ट न करें

दोस्तों पहली बार इन्वेस्ट करने जा रहे हो तो एक ही सेक्टर में ज्यादा इन्वेस्ट न करें इससे नुक्सान होने की ज्यादा संभावना होती है अनुभवी लोग तो अनुमान लगा सकते है की कौनसा सेक्टर फ्यूचर में कितना प्रॉफिट देगा कितना लोस्स आप नही लगा सकते है इसलिए थोड़ा इन्वेस्ट करे पर अलग अलग सेक्टर में इन्वेस्ट करे

हमेशा अपडेट रहें

दोस्तों अगर शेयर मार्किट में करियर बना रहे है तो आपको एक्टिव रहना होगा और डेली अपडेट रखना होगा क्यूंकि शेयर मार्किट में कब उतार चढ़ाव आ जाए कुछ नहीं कहा जाता कभी एक बार में तेजी आ जाती है और वही कभी एक दम से नीचे गिरने लगता है तो दोस्तों जब आपको लगे की शेयर काफी तेजी से ऊपर जा रहा है तो उस समय अपने पैसे निकल ले क्युकी शेयर नीचे गिर सकता है ज्यादा चांस होते है और वाही निचे जाये तो पैसे लगा सकते हो पर इस पर ज्यादा भरोसा नहीं किया जा सकता है इसलिए डेली अपडेट में रहे

ज्यादा लालच न करे

दोस्तों एक प्रसिद्ध कहावत तो सुनी होगी लालच बुरी बला है तो कभी भी लालच में आकर किसी एक सेक्टर में ज्यादा पैसा न लगाएं इससे आपको काफी नुकसान हो सकता है और किसी के कहने पर भी कभी इन्वेस्ट न करें अपने दिमाग के अनुसार और शेयर मार्किट में पैसा लगाए

सस्ते शेयर खरीदें

आप उस सेक्टर के शेयर खरीदें जो सस्ते हो और आप को लगे की यह शेयर फ्यूचर में महंगे होने वाले है उसके शेयर के पहले कुछ सालो की रिपोर्ट देखे की शेयर ऊपर जा रहा है या नीचे उसके बाद ही पैसा इन्वेस्ट करे

शेयर बाजार में निवेश क्यों करें? Share Market me invest kyu kare?

दिग्गज वॉरेन बफे के शब्दों में, “निवेश करना भविष्य में और पैसा वापस पाने के लिए अभी और पैसा निवेश करना है।” भले ही कुछ के अनुसार, ‘स्टॉक में निवेश’ एक जोखिम भरा प्रस्ताव है, अध्ययनों से पता चला है कि लंबी अवधि के लिए अपने पैसे को सही स्टॉक में रखना मुद्रास्फीति को मात देने का समाधान प्रदान कर सकता है। इसके अलावा यह सोने और रियल एस्टेट से भी बेहतर निवेश विकल्प हो सकता है। कहा कि अगर सही तरह के शेयरों में निवेश किया जाए तो इससे कारोबारियों को मुनाफा कमाने में मदद मिल सकती है।

भारत में कितने शेयर बाजार हैं? Bharat me kitne share bajar hai?

भारत में दो शेयर बाजार है पहला बीएसई और दुसरा एनएसई बीएसई का मतलब बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज एनएसई का मतलब नेशनल स्टॉक एक्सचेंज

शेयर बाजार को दो प्रकारों में वर्गीकृत किया जा सकता है, अर्थात् प्राथमिक और द्वितीयक बाजार। प्राथमिक बाजार माध्यमिक बाजार किसी कंपनी के शेयर बाजार में सूचीबद्ध होने से पहले, वे प्राथमिक बाजार में प्रवेश करती हैं। प्राथमिक बाजार में प्रवेश करने का उद्देश्य पैसा जुटाना है और अगर कंपनी पहली बार अपने शेयर बेच रही है, तो इसे आरंभिक सार्वजनिक पेशकश (IPO) के रूप में जाना जाता है। एक बार शेयर प्राथमिक बाजार में बेचे जाने के बाद, उन्हें द्वितीयक बाजार में कारोबार किया जाता है। द्वितीयक बाजार में लेन-देन, जिसे ट्रेड कहा जाता है, स्टॉक एक्सचेंज में होता है। यहां, निवेशक एक सहमत मूल्य पर शेयरों को आपस में खरीदते और बेचते हैं। आमतौर पर, एक दलाल एक मध्यस्थ के रूप में कार्य करता है जो ऐसे लेनदेन की सुविधा प्रदान करता है।

शेयर बाजार में क्या ट्रेड किया जाता है? What is traded in the stock market?

चार प्रकार के वित्तीय साधन हैं जिनका स्टॉक एक्सचेंज में कारोबार किया जाता है। वे इस प्रकार हैं:-

शेयर

यह एक कंपनी में इक्विटी स्वामित्व की एक इकाई का प्रतिनिधित्व करता है। कंपनी के शेयर रखने वाले निवेशकों को शेयरधारक के रूप में जाना जाता है।

बांड

बांड एक कंपनी द्वारा जनता से पूंजी जुटाने के लिए जारी किए जाते हैं। बांड जारीकर्ता को किए गए ऋण का प्रतिनिधित्व करते हैं। बैंक जाने के बजाय, कंपनी उन निवेशकों से धन प्राप्त करती है जो इसके बांड खरीदते हैं। यह अपने निवेशकों को रिटर्न की एक निश्चित दर का भुगतान करता है।

म्युचुअल फंड-

म्युचुअल फंड ऐसी कंपनियां हैं जो कई निवेशकों से पैसा लेती हैं और स्टॉक, बॉन्ड और शॉर्ट-टर्म डेट जैसी प्रतिभूतियों के मिश्रण में पैसा लगाती हैं।

डेरिवेटिव्स

डेरिवेटिव्स वित्तीय साधन हैं जो शेयरों, मुद्रा, वस्तुओं आदि जैसी अंतर्निहित संपत्ति से अपना मूल्य प्राप्त करते हैं। वायदा और विकल्प डेरिवेटिव उपकरणों के सामान्य उदाहरण हैं।

जरूर पढ़ें:-

बाजार में शेयरों की कीमत कैसे होती है और कीमत कौन निर्धारित करता है?

किसी कंपनी के शेयरों के स्टॉक एक्सचेंज में सार्वजनिक रूप से कारोबार शुरू करने के बाद, उसके शेयरों की कीमत बाजार में उसके शेयरों की मांग और आपूर्ति से प्रभावित होती है। यदि अनुकूल कारक हैं, तो इसके शेयरों की मांग अधिक होगी, जिससे शेयर की कीमत में वृद्धि होगी।

स्टॉक एक्सचेंज क्या है?

स्टॉक एक्सचेंज एक ऐसा प्लेटफॉर्म है जहां विभिन्न वित्तीय साधनों जैसे स्टॉक और डेरिवेटिव का कारोबार किया जाता है। यह शेयरों और अन्य प्रतिभूतियों को खरीदने और बेचने में मदद करता है। शेयर बाजार में गतिविधियों को सेबी द्वारा नियंत्रित किया जाता है। भारत में प्राथमिक स्टॉक एक्सचेंज एनएसई और बीएसई हैं, लेकिन वर्तमान में कुल मिलाकर, सेबी के अनुसार, भारत में सात मान्यता प्राप्त स्टॉक एक्सचेंज हैं।

सेंसेक्स और निफ्टी क्या हैं? what is nifty and sensex in hindi

भारत में दोनों प्राथमिक स्टॉक एक्सचेंजों, यानी एनएसई और बीएसई को बाजार के प्रदर्शन को मापने के लिए एक इंडेक्स की आवश्यकता होती है। सेंसेक्स या संवेदनशील सूचकांक बीएसई के लिए सूचकांक है जबकि निफ्टी एनएसई के लिए सूचकांक है।

एनएसई और बीएसई शेयर बाजार का नियमित समय सुबह 9:15 बजे से दोपहर 3:30 बजे तक है। इसके अतिरिक्त, पूर्व-उद्घाटन सत्र 9:00 पूर्वाह्न से 9:15 पूर्वाह्न तक और समापन सत्र 3:30 अपराह्न के बाद होता है जो अपराह्न 4:00 बजे तक चलता है। स्टॉक मार्केट छुट्टियों के रूप में जाने जाने वाले कुछ दिनों में शेयर बाजार बंद रहते हैं। होली, गणतंत्र दिवस, ईद ऐसी छुट्टियों के उदाहरण हैं। वीकेंड पर शेयर बाजार बंद रहता है।

शेयर मार्केट के फायदे और नुकसान ( Advantages and Disadvantages of Share Market )

शेयर बाजार में निवेश के लाभ

1.) शेयर बाजार में निवेश का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसमें बैंक एफडी, बचत खाते आदि जैसे अन्य निवेश विकल्पों की तुलना में कम समय में मुद्रास्फीति को मात देने की क्षमता है।

2.) जब आप किसी सार्वजनिक रूप से सूचीबद्ध कंपनी के शेयर खरीदते हैं, तो यह आपको कंपनी पर आनुपातिक नियंत्रण देता है, चाहे आपके शेयर का आकार कितना भी छोटा क्यों न हो। शेयरों का यह स्वामित्व बदले में आपको मतदान का अधिकार देगा और आपको लाभांश, बोनस आदि प्राप्त होंगे।

3.) अन्य निवेश विकल्पों के विपरीत, शेयरों में कोई लॉक-इन अवधि नहीं होती है। निवेशक सेकंड के भीतर स्टॉक एक्सचेंजों के माध्यम से शेयर खरीद और बेच सकते हैं।

4.) शेयर बाजार को भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) द्वारा नियंत्रित किया जाता है। सेबी शेयरधारकों के हितों की रक्षा के लिए दलालों, उप-दलालों, सलाहकारों और स्टॉक एक्सचेंजों जैसे बाजार सहभागियों की बारीकी से निगरानी करता है।

5.) लंबी अवधि के पूंजीगत लाभ यानी 12 महीने से अधिक के लिए किए गए निवेश पर केवल 1 लाख रुपये से ऊपर 10% कर लगाया जाता है।
शॉर्ट-टर्म कैपिटल गेन यानी 12 महीने से कम समय के लिए किए गए निवेश पर 15% + 3% उपकर लगाया जाता है।
किसी भी कैपिटल लॉस को आठ वित्तीय वर्षों तक के लिए सेट ऑफ किया जा सकता है।

शेयर बाजार में निवेश के नुकसान

1.) शेयर बाजार में निवेश को जोखिम भरा माना जाता है क्योंकि बाजार में उतार-चढ़ाव होता है और शेयरों में उतार-चढ़ाव हो सकता है और यहां तक ​​कि लोअर सर्किट भी लग सकता है।

2.) जब किसी कंपनी का परिसमापन होता है, तो शेयरधारकों को सबसे अंत में भुगतान किया जाता है जबकि कंपनी के बांडधारकों और लेनदारों को पहले भुगतान किया जाता है।

3.) अस्थिरता के कारण शेयर की कीमतें अक्सर बढ़ती और गिरती हैं। कई निवेशक लालच के कारण उच्च कीमत पर शेयर खरीदते हैं और डर के मारे कम कीमत पर बेचते हैं। इसलिए, रोलर कोस्टर निवेश से बचने के लिए कॉफी-कैन निवेश सबसे अच्छी रणनीति है।

4.) आपको समग्र रूप से अच्छी तरह से डायवर्सिफाइड पोर्टफोलियो बनाने के लिए बॉन्ड, कमोडिटीज आदि में निवेश करके अपने स्टॉक पोर्टफोलियो में विविधता लानी चाहिए।

5.) आपके स्टॉक पोर्टफोलियो में फार्मास्युटिकल, एफएमसीजी, बैंक, आईटी आदि जैसे विविध क्षेत्रों के स्टॉक शामिल होने चाहिए।

6.) म्युचुअल फंड निवेश को शेयर बाजार में निवेश की तुलना में कम जोखिम भरा माना जाता है। यह आपको एक विशेषज्ञ फंड मैनेजर द्वारा चुने गए सैकड़ों शेयरों के मालिक होने की अनुमति देता है।

7.) याद रखें, जब बाजार में घबराहट हो तो रुक-रुक कर खरीदारी करें और उत्साह पर बेचें।

शेयर बाजार को समझने के लिए सर्वश्रेष्ठ पुस्तकें? Best books to understand stock market

निचे दिए गये टेबल में बुक का नाम और लिंक जहां से आप ऑनलाइन घर बैठे मंगवा सकते हो और शेयर मार्किट के बारे में पढ़ सकते हो Share market kya hai, share market se paise kaise kamaye

किताब का नामयहाँ से खरीदें
टेक्निकल एनालिसिस और कैंडलस्टिक की पहचानक्लिक करे
इंट्राडे ट्रेडिंग की पहचानक्लिक करे
स्विंग ट्रेडिंग टेक्निकल एनालिसिस हिंदीक्लिक करे
शेयर मार्केट में प्रॉफिट कैसे कमाएक्लिक करे
शेयर बाजार गाइडक्लिक करें

आखिर में,

आज इस आर्टिकल में हमने Share market kya hai? Share market se paise kaise kamaye? विस्तार से पढ़ा है अगर यह पोस्ट आपके काफी काम की रही है तो आप इसे अपने फ्रेंड्स को जरुर शेयर करे ताकि वो भी इस आर्टिकल से वंचित न रहे

में डेली ऐसी पोस्ट लेकर आता रहता हु अगर आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगती है तो आप हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब कर सकते है उसके लिए आपको राइट साइड में बॉटम में एक बेल्ल दिखायी दे रही होगी उसे दबाकर अल्लोव कर दे हमारी हर नयी पोस्ट आपको एक मैसेज के तोर पर सेंड होगी जिससे आप हमारी सारी पोस्ट को पढ़ सकते हो

जरूर पढ़ें:-

Leave a Comment